+

सीरिया में 7 विस्फोटों में 148 लोगों की गई जान

सीरिया में 7 विस्फोटों में 148 लोगों की गई जान

बेरुत : सीरिया के दो तटवर्ती इलाकों में हुए हमले में 148 लोगों के मारे जाने की खबर है। हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस ने ली है। सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के अनुसार जाबलेह और तारतूस में सोमवार को सात धमाके हुए जिनमें से अधिकतर आत्मघाती हमले थे।

मानवाधिकर संगठन के प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने बताया कि सीरिया में मार्च 2011 में संघर्ष शुरु होने के बाद से कई हमले किए गए, लेकिन निःसंदेह यह सबसे जानलेवा हमला था। दोनों शहरों में एक ही समय में सात विस्फोट किए गए।

इस्लामिक स्टेट ने अपनी समाचार एजेंसी अमाक के जरिए बयान जारी कर कहा कि उनके लड़ाकों ने हमले को अंजाम दिया है। ये दोनों शहर राष्ट्रपति बशर अल असद के शासन के मजबूत गढ़ हैं। जाबलेह से करीब 25 किलोमीटर पूर्व में कारदाहा गांव हैं जहां से असद के परिवार का ताल्लुक है।