कोकराझार में फैला मातम, मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए देने का ऐलान

कोकराझार : शुक्रवार को भरी दोपहर में असम के एक बाजार में उग्रवादियों ने कत्ल का खूनी खेल खेला। हमले में 14 लोगों की जानें गई, जब कि एक उग्रवादी मारा गया। घटना के बाद से गली में दुकानें तो लगी है, लेकिन मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। घर, दुकान व गाड़ी जलकर खाक हो गए है। राज्य के मंत्री हेमंत बिस्व शर्मा रात को मुआयना करने के लिए मौके पर पहुंचे।

जिस जगह कल दिन में उग्रवादियों द्वारा हमला किया गया था, वो जगह गुवाहाटी से करीब 200 किमी दूर है। कोकराझार के बालाजान में साप्ताहिक बाजार लगा था और उग्रवादियों ने यहां अचानक हमला कर दिया। खबरों के अनुसार, उग्रवादी एक टेंपो जैसे वैन में सवार होकर आए थे। इस साप्ताहिक बाजार में राशन व सब्जी जैसे सामानों की दुकान लगाने वाले बेगुनाहों पर फायरिंग की गई।

मौके पर ही 12 लोग मारे गए, जब कि दो की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हुई। उसी दौरान सुरक्षा बलों की गाड़ी वहां से गुजर रही थी, जिसने तुरंत मो्रचा संभाला। हमले के बाद से ही हमलावरों की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हमलावर सेना की वर्दी में आए थे। केंद्रीय एजेंसियों ने भी हमले की जांच शुरु कर दी है।

असम के सीएम सर्वानंद सोनोवाल ने घटना की पूरी जानकारी पीएम नरेंद्र मोदी व गृह मंत्री राजनाथ सिंह को दी। दिल्ली में सोनोवाल ने पीएम से इस मामले को लेकर मुलाकात भी की। गृह मंत्री ने राज्य सरकार को पूरे सहयोग का भरोसा दिलाया है। सोनोवाल शाम के समय अपना दिल्ली दौरा अधूरा छोड़कर असम लौट गए थे।

मुख्यमंत्री ने मारे गए लोगों के परिजनों को 5-5 लाख रूपए और गंभीर रूप से घायलों को 1-1 लाख रूपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। साथ ही घायलों का उपचार मुफ्त में किया जाएगा। दूसरी और CM सर्बानंद सोनोवाल आज कोकराझार का दौरा करेंगे।

लड़की के प्यार में पाकिस्तान पहुंचे युवक पर जेल में हुआ हमला

मुठभेड़ में एक नक्सली समेत तीन की मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -