सैमसंग के उत्तराधिकारी के खिलाफ वकीलों ने खोला मोर्चा

बुधवार को दक्षिण कोरियाई वकीलों ने, जेल में बंद सैमसंग के अरबपति उत्तराधिकारी ली जे-यंग को घूसखोरी के लिए 12 साल कैद दिए जाने की मांग की. इस मामले की वजह से ही पिछली राष्ट्रपति पार्क ग्यून-हाई को महाभियोग के बाद पद से हटना पड़ा था.

अगस्त में एक निचली अदालत ने ली को पूर्व राष्ट्रपति पार्क को घूस देने के आरोप में पांच साल की सजा सुनाई थी. इसके बाद 12 साल की सजा की मांग करते हुए वकीलों ने इस फैसले को चुनौती दी. कोर्ट में वकीलों ने कहा, ‘‘अभियुक्त ने सत्ता के साथ नजदीक संबंध बनाए और इसका निजी लाभ उठाया. इन घोटालों मुख्यत: लाभ उन्हें ही मिला है.” सिओल हाईकोर्ट ने कहा कि वह आने वाले हफ्तों में ली के मामले पर फैसला सुनाएगा. यदि कोर्ट वकीलों की अपील मंजूर कर लेती है तो यह देश में किसी कंपनी के शीर्ष अधिकारी को मिली सबसे कड़ी सजा होगी.

ली अपने आप को बेकसूर बताते हुए 5 साल की सज़ा वाले फैसले के खिलाफ अपील की है. जे-यंग ली और उनके चार सहयोगियों पर एक सौदे में आसानी के लिए, पूर्व राष्ट्रपति पार्क और उनकी सहयोगी चोई सून-सिल को लाखों डालर की रिश्वत देने का आरोप है. यह सौदा 2015 में हुआ था और इसको लेकर देश में बहुत विवाद और प्रदर्शन हुए थे. 

पिछले साल की तुलना में न्यूयॉर्क में अपराधों में कमी

रेलवे ई-टिकट बुकिंग रैकेट में शामिल सीबीआई अधिकारी गिरफ्तार

क्रिसमस के दिन दिल्ली में गैंगरेप

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -