गोदावरी नाव हादसा: फिर शुरू हुई बचाव अभियान, 12 लोगों के शव मिले, 30 अब भी लापता

Sep 16 2019 10:04 AM
गोदावरी नाव हादसा: फिर शुरू हुई बचाव अभियान, 12 लोगों के शव मिले, 30 अब भी लापता

विशाखापट्टनम: आंध्र प्रदेश के ईस्ट गोदावरी जिले में हुए नाव हादसे में प्रशासन ने आठ नाव और 2 हेलिकॉप्टरों के साथ सोमवार सुबह 5।45 बजे बचाव अभियान फिर से शुरू कर दिया है। इस बीच डोलेश्वरम बैराज के गेट बंद कर दिए गए हैं और वहां भी तलाश जारी है। ताजा जानकारी के अनुसार, अब तक 12 शवों को नदी से बाहर निकाल लिया गया है। 

उल्लेखनीय है कि आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में रविवार को एक नाव के पलटने से 12 लोगों की जान चले गई है और 30 अन्य लोग अब भी लापता हैं। इस नाव में 60 पर्यटक सवार थे। कुछ लोगों ने जहां तैरकर अपनी जान बचाई, वहीं कुछ लोगों को स्थानीय लोगों ने पानी में डूबने से बचाया। इस तरह 27 लोग सकुशल नदी से बाहर आने में सफल रहे। यह दुर्घटना पर्यटक स्थल पापिकोंडा में हुई। नाव में 63 पर्यटक व नौ चालक दल के मेंबर थे। एक निजी ऑपरेटर द्वारा संचालित नाव में अधिकतर लोग तेलंगाना से थे।

अधिकारियों ने कहा है कि पर्यटकों में से 22 लोग हैदराबाद से व 14 वारंगल जिले से ताल्लुक रखते थे। नाव को बाढ़ होने के बाद भी चलाया गया और पर्यटन विभाग के सुरक्षा दिशा निर्देशों का उल्लंघन किया गया। आंध्र प्रदेश के सीएम वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने हादसे पर गहरा दुख जाहिर किया है। उन्होंने बचाव अभियान को युद्ध स्तर पर करने का आदेश दिया है। जगन मोहन रेड्डी ने प्रत्येक मृतक के परिवारों को दस लाख की मुआवज़ा राशि देने का ऐलान किया है।

विदेशी मीडिया से मुखातिब होंगे संघ प्रमुख मोहन भागवत, इस बात पर रहेगा जोर

दुनिया का यह दिग्गज उद्योगपति रिटायरमेंट लेने के बाद करेगा यह काम

स्टार्टअप्स के मामले में देश का यह शहर सबसे आगे