शहडोल में ऑक्सीजन की कमी से हुई 12 मरीजों की मौत, कमलनाथ बोले- 'शिवराज जी कब तक झूठ बोलते रहेंगे'

Apr 18 2021 01:56 PM
शहडोल में ऑक्सीजन की कमी से हुई 12 मरीजों की मौत, कमलनाथ बोले- 'शिवराज जी कब तक झूठ बोलते रहेंगे'

शहडोल: कोरोना संक्रमण के बीच देश की स्वास्थ्य व्यवस्थाएं डगमगा चुकीं हैं। देखा जा रहा है कि कहीं अस्पतालों में बिस्तर नहीं मिल रहे तो कहीं ऑक्सीजन खत्म हो जा रही है। अब जो नया मामला सामने आया है वह शहडोल के मेडिकल कालेज का है। यहाँ ऑक्सीजन की कमी हो गई है, और इसी के चलते अब तक 12 मरीजों की मौत हो गई है। इस मामले में मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ। मिलिंद शिरालकर ने भी ऑक्सीजन की कमी से हुई इन 12 मौतों की पुष्टि की है। हाल ही में डीन docter ने बताया है कि, 'अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते अब सिर्फ अति गंभीर मरीजों को ही ऑक्सीजन दी जा रही है। लेकिन हैरान करने वाली बात ये है कि शहडोल के जिलाधिकारी ने इन मौतों के पीछे ऑक्सीजन की कमीं को कारण मानने से इंकार कर दिया है।'

वहीँ दूसरी तरफ इस मामले में परिजनों ने अपनी बात रखी है। उनका कहना है कि सिलेंडर की कमीं के कारण मौत हुई है। एक मृतक के परिजन का कहना है कि उन्होंने मरीज को खाना खिलाकर सुलाया था, उसके बाद सुबह पता चला कि मौत हो गई है, जब उन्होंने गार्ड से पूछा तो गार्ड ने बताया कि ऑक्सीजन की कमी के चलते मौत हुई है। वहीँ दूसरी तरफ शहडोल का जिला प्रशासन लगातार यह कह रहा कि मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई है।

शहडोल के SDM ने एक मशहूर वेबसाइट से बातचीत में कहा, ''ऐसा नहीं है कि ऑक्सीजन की कमी है, ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में मौजूद है। क्रिटिकल पेशेंट की संख्या बढ़ रही है स्वाभाविक है नेचुरल मौत होंगी''। इस बारे में जानकारी मिलते ही कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी दुःख जताया। उन्होंने ट्वीट किया और शिवराज सरकार को घेरा है। अपने ट्वीट में कमलनाथ ने कहा, ''अब शहडोल में ऑक्सिजन की कमी से मौतों की बेहद दुखद ख़बर। भोपाल, इंदौर, उज्जैन, सागर, जबलपुर, खंडवा, खरगोन में ऑक्सिजन की कमी से मौतें होने के बाद भी सरकार नहीं जागी? आख़िर कब तक प्रदेश में ऑक्सिजन की कमी से यूँ ही मौतें होती रहेगी? शिवराज जी आप कब तक ऑक्सिजन की आपूर्ति को लेकर झूठे आँकड़े परोसकर, झूठ बोलते रहेंगे, जनता रूपी भगवान रोज़ दम तोड़ रही है। प्रदेश भर की यही स्थिति, अधिकांश जगह ऑक्सिजन का भीषण संकट है। रेमडेसिविर इंजेक्शन की भी यही स्थिति है। सिर्फ़ सरकार के बयानो में व आँकड़ो में ही ऑक्सिजन व रेमडेसिविर उपलब्ध है।''

रिलीज हुआ राहुल वैद्य और दिशा परमार का गाना, कुछ ही मिनटों में सोशल मीडिया पर मचाया धमाल

आलिया संग रोमांस करते दिखेंगे पार्थ समथान, आने वाली है नयी फिल्म

विश्व शतरंज चैंपियन विश्वनाथन आनंद ने अपने पिता के लिए लिखा खास नोट