69000 शिक्षक भर्ती मामला: 11 गिरफ्तार, STF को मिली जांच की जिम्मेदारी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के परिषदीय स्कूलों में 69000 शिक्षकों की भर्ती में हुए घोटाले पर कांग्रेस, सपा और बसपा यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ आक्रामक हो गईं हैं। इसी बीच यूपी सरकार भी इस घोटाले पर एक्शन मोड में नज़र आ रही हैं। सरकार के आदेश के बाद पुलिस ने इस मामले में मास्टरमाइंड डॉ केएल पटेल सहित 11 आरोपियों को अरेस्ट कर लिया है। 

वहीं, मामले में डीजीपी एचसी अवस्थी ने मामले की जांच STF को सौंपने का आदेश दिया है। इससे पहले शीर्ष अदालत ने आदेश जारी करते हुए यूपी सरकार को 37339 पदों को होल्ड करने का आदेश दिया। बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री सतीश द्विवेदी ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा है कि सहायक शिक्षक भर्ती मामला में एक शिकायतकर्ता की शिकायत के बाद पुलिस ने तक़रीबन 11 लोगों को अरेस्ट किया है। ये गिरोह पंचम लाल आश्रम उच्चतर माध्यमिक स्कूल प्रयागराज के साथ मिलीभगत कर परीक्षार्थियों की गैर कानूनी ढंग से सहायता कर उनसे पैसे की वसूली करता था। 

बताया कि यह पूरा मामला अब STF को सौंप दिया गया है। परीक्षा केंद्र को भविष्य में होने वाली किसी भी भर्ती परीक्षा के लिए डिबार किया जाता है। उसके प्रबंधक और संबंधित स्टाफ जो भी इसमें शामिल पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस इस गिरोह के कई लोगों को अरेस्ट कर अब तक जेल भेजा जा चुका है। अब पुलिस का शिकंजा सफल अभ्यर्थियों पर भी कसने लगा है। पुलिस ने टॉपर सहित 2 अभ्यर्थियों को अरेस्ट कर जेल भेज दिया है। पुलिस के रडार पर 50 से अधिक सफल अभ्यर्थी हैं। अभ्यर्थियों पर गिरोह को 8 से 10 लाख रुपए देकर भर्ती परीक्षा में उत्तीर्ण होने का आरोप है।

लॉकडाउन में इतना बिका Parle-G का बिस्कुट कि टूट गया 82 सालों का रिकॉर्ड

GST रिटर्न के लिए शुरू हुई शानदार सर्विस, 22 लाख कारोबारियों को मिलेगा लाभ

भारतीय शेयर बाजार ने गंवाई शुरूआती बढ़त, लाल निशान में आए सेंसेक्स-निफ़्टी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -