101 वर्ष की पाकिस्तानी हिन्दू महिला को मिली भारत की नागरिकता, 12 साल पहले किया था आवेदन

Jan 12 2019 05:54 PM
101 वर्ष की पाकिस्तानी हिन्दू महिला को मिली भारत की नागरिकता, 12 साल पहले किया था आवेदन

जोधपुर: 100 साल से अधिक उम्र की पाकिस्तानी हिंदू महिला जमुना माई के लिए शुक्रवार का दिन बहुत खुशियां लेकर आया. यह वही दिन था, जब उन्हें 12 साल का इंतजार करने के बाद भारत की नागरिकता दी गई. जिलाधिकारी ने बताया है कि 101 साल की जमुना दुनिया की सबसे वृद्ध महिला हैं जिन्हें भारतीय नागरिकता प्राप्त हुई है. राजस्थान के जोधपुर की एक छोटी सी बस्ती सोढा री धानी में पाकिस्तान से आए 6 हिंदू प्रवासियों का परिवार निवास करता है.

अब बेकार नहीं जाएंगे आपके कटे-फटे नोट, इस तरह करें उनका उपयोग

परिवार ने अपने सबसे वृद्ध सदस्य को भारतीय नागरिकता मिलने का जश्न मनाया है. भारतीय नागरिकता अधिनियम 1955 के तहत उनके आवेदन को शुक्रवार को अनुमति मिल गई. वो गत 12 वर्षों से इसके लिए प्रयत्न कर रही थीं. अब उन्हें आशा है कि उनके परिवार के सदस्यों को भी जल्द ही भारत की नागरिकता मिल जाएगी.

भाजपा महाधिवेशन में पीएम मोदी ने भरी हुंकार, कहा भ्रष्टाचार में लिप्त थी पूर्व सरकार

अधिकारियों का कहना है कि जोधपुर में लगे नागरिकता कैंप के दौरान उन्हें इस बात की जानकारी मिली कि एक आवेदनकर्ता का जन्म 1888 का है. रिकॉर्ड्स के मुताबिक आवेदनकर्ता जमुना माई का जन्म अविभाजित पंजाब के इलाके में हुआ था. जोधपुर के एडीएम जवाहर चौधरी ने बताया कि, 'माई के दस्तावेज को अनुमति दे  दी गई और उन्हें शुक्रवार को नागरिकता प्रमाणपत्र प्रदान कर दिया गया.' माई और उनके परिवार को स्थानीय प्रशासन ने दो कमरों वाला एक घर निवास करने के लिए दिया गया है.

खबरें और भी:-  

 

महाधिवेशन में बोले गडकरी, पिछली सरकार की विशेषता थी भ्रष्टाचार

कागज उद्योग में घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए सरकार प्रयासरत : सुरेश प्रभु

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का आज अंतिम दिन, समापन भाषण देंगे पीएम मोदी