सचिन तेंदुलकर के बारे में 10 अनजाने तथ्य

Apr 24 2018 09:31 AM

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर पर कई किताबें लिखी जा सकती हैं, लेकिन फिर भी उनके रिकॉर्डों, अनुभवों, उनके चरित्र आदि के बारे में सबकुछ नहीं लिखा जा सकता. हमने भी आज मास्टर ब्लास्टर के 45वें जन्मदिन के अवसर पर उनके बारे में कुछ अनजाने तथ्य पेश कर रहे हैं.

1. सचिन ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ अपने पहले टेस्ट मैच में सुनील गावस्कर से उपहार में मिले पैड्स को पहन कर खेला था.
2.  1996 के विश्वकप में सचिन के बल्ले पर किसी भी कंपनी का लोगो नहीं था. विश्वकप के तुरंत बाद टायर बनने वाली कंपनी MRF ने उनसे करार कर लिया था.
3. सचिन तेंदुलकर ने रणजी, दलीप और ईरानी ट्राफ़ी के अपने पहले ही मैचों में शतक जमाए. ऐसा करने वाले वे भारत के एकमात्र बल्लेबाज़ हैं. उनका यह रिकॉर्ड आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है.
4. सचिन के पिता रमेश तेंडुलकर ने सचिन को करियर की शुरुआत में ही शराब और सिगरेट के विज्ञापनों से दूर रहने की सलाह दी थी और सचिन ने भी अपने पिता से ऐसा न करने वादा किया था.
5. मुंबई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम में 1988 में खेले एक दिवसीय अभ्यास मैच में सचिन तेंदुलकर ने पाकिस्तान के लिए फ़ील्डिंग की थी.
6. सचिन तेंडुलकर लेफ्ट हैंडर हैं, जी हां, यह सच है, वैसे तो सचिन सीधे हाथ से बल्लेबाजी करते हैं. बॉलिंग में भी उनका सीधा हाथ काम करता है, लेकिन ऑटोग्राफ देने के लिए वे बायें हाथ का इस्तेमाल करते हैं.
7. दिलचस्‍प तथ्‍य यह है कि सचिन जब कभी भी टीम के साथ बस में होते हैं तो वे हमेशा पहली पंक्ति में बायीं तरफ की खिड़की वाली सीट पर बैठते हैं.
8.  सचिन ने अपने टेस्ट करियर में कभी तीसरे क्रम पर बल्लेबाजी नहीं की, बतौर सेकंड ओपनर भी वे केवल 1 बार उतरे.
9. यह बेहद कम लोग ही जानते हैं कि सचिन तेंदुलकर अपने पिता रमेश तेंदुलकर की दूसरी पत्‍नी के पुत्र है, रमेश तेंदुलकर की पहली पत्‍नी से तीन संताने हुई, अजीत, नितिन और सविता तीनों सचिन से बड़े है.
10. सचिन तेंदुलकर का बैट लगभग 1.5 किलोग्राम का होता था. इतना भारी बल्ला सिर्फ़ दक्षिण अफ्रीका के लांस क्लूजनर इस्तेमाल करते थे. 

24 अप्रैल का इतिहास : आज ही के दिन हुआ था 'क्रिकेट के भगवान' का जन्म...

Birthday special: क्रिकेट का भगवान आज मना रहा है अपना 45 वां जन्मदिन

क्रिकेट के भगवान बनेंगे हॉलीवुड फिल्मों में सुपर हीरो