उज्जैन में 10 नए संक्रमित मिले, एक दिन में 114 स्वस्थ होकर लौटे घर

मध्य प्रदेश की महाकाल नगरी में कोरोना का कहर पिछले कई दिनों से तेजी से बढ़ रहा था लेकिन अब मरीजों की संख्या में गिरावट आ रही है. शहर में शनिवार रात कोरोना संक्रमण के 10 नए मामले सामने आए. इसके साथ ही एक और मौत भी दर्ज की गई है.

वहीं, नए केसों के बाद अब संक्रमितों का आंकड़ा 670 तक पहुंच गया है. इनमें से 57 कोरोना पॉजिटिव की मृत्यु हो चुकी है. 432 मरीज ठीक भी हुए हैं. जिले में अब 181 एक्टिव मरीज बचे हैं. शनिवार रात जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक गोंसा दरवाजा क्षेत्र निवासी 64 साल के व्यक्ति की इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में मौत हो गई. इन्हे 19 मई को भर्ती किया गया था.

हालांकि, कोरोना से जंग लड़ रहे उज्जैन के लिए शनिवार का दिन यादगार बन गया. 114 कोरोना पॉजिटिव मरीज ठीक होकर घर लौटे. आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज से 55, पुलिस ट्रेनिंग स्कूल से 56 और इंदौर से 2 मरीज डिस्चार्ज हुए. आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज से मरीजों के डिस्चार्ज होने पर ढोल बजाए गए. इसपर स्वास्थ्यकर्मी झूम उठे. इस संबध में मरीजों ने भी कहा कि बीमारी से घबराने की बजाय इसका मुकाबला करना है. आपको बता दें कि उज्जैन में अब तक कुल 431 मरीज ठीक होकर अपने घर लौट चुके हैं. वहीं, एमपी के 52 में से 51 जिले कोरोना वायरस की चपेट में हैं. प्रदेश में अब तक 7891 संक्रमित मिले हैं. प्रदेश में कुल एक्टिव संक्रमित 3104 हैं. वहीं, राज्य के 51 जिलों में 904 कंटेनमेंट एरिया हैं. सबसे ज्यादा कंटेनमेंट एरिया इंदौर में हैं. इंदौर के अलावा भोपाल और उज्जैन में भी संक्रमण बढ़ रहा है. केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार लॉकडाउन केवल कंटेनमेंट क्षेत्र में रहेगा ऐसे में प्रदेश में 904 क्षेत्रों में 30 जून तक लॉकडाउन रहेगा. यह क्षेत्र 30 जून तक पूरी तरह से लॉक रहेंगे .

शहरी इलाकों में घुसा टिड्डियों का समूह, कई जिलों में मचाई तबाही

मध्य प्रदेश में 15 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, सीएम शिवराज ने किया ऐलान

किसानों को लेकर शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, बनाएगी खुद की फसल बीमा कंपनी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -