मां की गोद से गिरी 1 माह की बच्ची, जानिए फिर क्या हुआ

मालनपुर: ग्वालियर से भाई के साथ बाइक पर भिंड जा रही मां की गोद से 1 माह की बच्ची फिसलकर सड़क पर गिरी गई थी. बाइक पर बैठी मां करीबन 2 किमी आगे निकल गईं तब उन्हें अपनी गोद खाली होने का अहसास हुआ था. तभी मां ने भाई से बाइक रुकवाई, फिर कंबल देखा तो मासूम नहीं थी. बेटी को नहीं पाकर मां बेहाल हो गई . वह भाई के साथ वापस ग्वालियर की ओर चली गई. हादसा भिंड-ग्वालियर एनएच 92 पर मालनपुर में आरटीओ बैरियर के सामने ब्रेकर पर हुआ था. बैरियर के कर्मचारियों ने बच्ची को सड़क से उठाकर पुलिस को सूचना दे दी थी. गनीमत यह रही कि बच्ची गिरी तब पीछे से कोई वाहन नहीं आया था. इसके बाद में बच्ची को मां के सुपुर्द कर दिया गया.

वहीं, ग्वालियर डीडी नगर में रहने वाली शिल्पी 30 पत्नी राहुल तोमर बीते शनिवार को भिंड में शादी समारोह में सम्मलित होने के लिए भाई दीपक पुत्र महेंद्र सिंह के साथ बाइक से भिंड आ रही थी. इसी बीच बाइक पर दीपक के दोस्त राजीव चतुर्वेदी बीच में बैठे थे. पीछे शिल्पी बैठी थी, जो कंबल में लपेटकर गोद में 1 माह की बेटी को बैठाएं थी. मालनपुर में आरटीओ बैरियर के पास ब्रेकर पर बाइक उछली तो कंबल से ढकी मासूम मां शिल्पी की गोद से फिसलकर सड़क पर गिरी गई थी. वहीं, शिल्पी की गोहद में अब सिर्फ कंबल रह गया था. उन्हें बेटी के गिरने का अहसास तक नहीं हुआ था.

बैरियर से लगभग 2 किमी दूर जाकर शिल्पी को कंबल खाली सा लगा था फिर उन्होंने भाई से बाइक रोकने के लिए कहा था. बाइक रुकी तो शिल्पी ने देखा कि कंबल में बेटी नहीं है. वे भाई के साथ बाइक से वापस ग्वालियर की और चली गई. बैरियर के पास उन्हें बेटी की सूचना मिल गई थी.

घुटनों के दर्द की दवा बनाएंगे आईएचबीटी-टीएमसी

मोबाइल ऐप से बुक हो जायेगी टैक्सी, शिमला पर्यटकों से नहीं होगी लूट

एकीकृत विकास योजना में 428 पंचायतें मौजूद

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -