दूसरी तिमाही का जीडीपी का चालू खाता 1.6 फीसदी घटा

मुंबई : देश का चालू खाता घाटा (सीएडी) मौजूदा कारोबारी साल की दूसरी तिमाही में घटकर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 1.6 फीसदी यानी 8.2 अरब डॉलर दर्ज किया गया, जो एक साल पहले की समान अवधि में 10.9 अरब डॉलर था। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने यहां दूसरी तिमाही के लिए भुगतान संतुलन के आंकड़े जारी करते हुए कहा, चालू खाता घाटा कम रहने का प्रमुख कारण यह है कि व्यापार घाटा गत एक साल में 39.7 अरब डॉलर से घटकर 37.4 अरब डॉलर दर्ज किया गया।

चालू खाता घाटा हालांकि प्रथम तिमाही में जीडीपी का 1.2 फीसदी था। प्रथम छमाही के लिए चालू खाता घाटा जीडीपी का 1.4 फीसदी रहा, जो एक साल पहले समान अवधि में 1.8 फीसदी था। प्रथम छमाही में व्यापार घाटा भी घटकर 71.6 अरब डॉलर रहा, जो एक साल पहले समान अवधि में 74.7 अरब डॉलर था।

आरबीआई ने कहा कि दूसरी तिमाही में देश में 15.1 अरब डॉलर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) आया, जो प्रथम तिमाही में 16.7 अरब डॉलर था। पोर्टफोलिया निवेश में हालांकि दूसरी तिमाही में 6.5 अरब डॉलर की शुद्ध गिरावट दर्ज की गई, जबकि एक साल पहले समान अवधि में यह 9.8 अरब डॉलर बढ़ा था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -