मौसम की मार से 'आम' हुआ ख़ास

लखनऊ : एक तो वैसे इस साल आम की बहार कम होने से आम की आवक कम है इस पर इस साल बेमौसम बरसात और हवा आंधी ने आम की फसल को बहुत प्रभावित कर दिया है. इस कारण इस साल न केवल आम का स्वाद फीका हुआ है , बल्कि वह आम से खास बन गया है.

बता दें कि हाल ही में यूपी में दो बार आई प्राकृतिक आपदा में तेज हवा, बारिश और आंधी के कारण आम की फसल को बहुत नुकसान हुआ है.आम के व्यापारियों के अनुसार पिछले दो तूफानों में आम की करीब 40 फीसदी फसल बर्बाद हो गई है .तूफान भी ऐसे समय आये जब आम बाजार में पहुँचने के लिए तैयार थे.इस नुकसान का बोझ आम के रसिकों पर पड़ना तय है.आम का स्वाद लेने या आमरस खाने के लिए इस बार जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी ,क्योंकि दाम बढ़ जाएंगे.

उल्लेखनीय है कि लखनऊ के मलिहाबाद का आम देश ही नहीं दुनिया भर में मशहूर है.रविवार शाम आंधी के साथ गिरे ओलों के कारण भारी मात्रा में आम पेड़ों से गिरने से किसानों को बहुत नुकसान हुआ है.यही उनकी आय का प्रमुख जरिया है .ओलों की चोट से खराब हुए आम का अब सिर्फ अचार ही बन सकता है .किसान अपने नुकसान की भरपाई सरकार की ओर से होने की आस लगा रहे हैं.कृषि विभाग नुकसान का आकलन कर रहा है , वहीं किसान भी सीएम योगी से मिलने की योजना बना रहे हैं.

यह भी देखें

देश में आंधी-तूफ़ान का तांडव, 41 की मौत

राजस्थान में धूल भरी हवाएं चलने की आशंका

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -