ट्रम्प ने टीपीपी समझौते से अमेरिका को अलग किया

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका को ट्रांस-पसिफिक पार्टनरशिप (टीपीपी) व्यापार समझौते से औपचारिक रूप से अलग कर लिया. ट्रम्प ने 12 देशों के व्यापार समझौते की वार्ता प्रक्रिया से वापसी के आदेश पर हस्ताक्षर किये.

इस समझौते से हटने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा कि हम लंबे समय से इस बारे में बात कर रहे थे. यह अमेरिकी श्रमिकों के लिए बहुत अच्छा वक्त है. ट्रंप ने अपने प्रचार अभियान में ऐसा करने का वादा किया था. बता दें कि यह पहल उनके पूर्ववर्ती राष्ट्रपति बराक ओबामा की बड़ी अंतरराष्ट्रीय व्यापार परियोजनाओं में से एक थी. हालांकि शीर्ष रिपब्लिकन सेनेटर जॉन मैकेन ने ट्रंप के फैसले को गलत करार दिया है. अमेरिकी कांग्रेस ने कभी इसका अनुमोदन नहीं किया.

गौरतलब है कि ट्रंप ने अपने प्रचार के दौरान तर्क दिया था कि टीपीपी की तरह के मुक्त व्यापार समझौते अमेरिकी श्रमिकों और निर्माण क्षेत्र के लिए नुकसानदायक हैं. ट्रंप ने राष्ट्रपति बनने के बाद और अधिक संरक्षणवादी व्यापार नीतियों को लागू करने का वादा किया था. ताज़ा पहल उसी की एक कड़ी है.टीपीपी पर इस कदम को अमेरिकी व्यापार नीतियों को नई दिशा देने की ट्रंप प्रशासन की पहली बड़ी कार्रवाई समझा जा रहा है.

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा "नही देना चाहिए था मुझे वोट"

ट्रंप ने इजराइल के प्रधानमंत्री को अमेरिका आने के लिए किया आमंत्रित

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -