विस्थापित कश्मीरी पंडितों के लिए बने स्मार्ट सिटी : अनुपम खेर

Apr 13 2015 01:37 AM

नई दिल्ली : बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने रविवार को कहा कि भारतीय संविधान की धारा 370 जो कि कश्मीर राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देती है उसे समाप्त कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि विस्थापित हुए पंडित समुदाय के लिए कश्मीर घाटी में स्मार्ट सिटी बनाई जानी चाहिए। "रूट्स इन कश्मीर" द्वारा आयोजित पत्रकार वार्ता में अनुपम खेर ने कहा, "निजी तौर पर मुझे लगता है कि धारा 370 को निरस्त कर देना चाहिए।" अनुपम खेर स्वयं एक कश्मीरी पंडित हैं।

उन्होंने कहा कि कश्मीरी पंडित अब अपनी उन कालोनियों में वापस नहीं लौट सकते जहां पर वह पहले रह रहे थे, क्योंकि ज्यादातर जगह को या तो जला दिया गया है या फिर उस पर कब्जा कर लिया गया है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से आग्रह किया कि कश्मीरी पंडितों के लिए एक नई स्मार्ट सिटी बनाई जाए। अनुपम ने कहा, "आज के समय में यह बहुत जरूरी हो गया है कि जब कश्मीरी पंडित घाटी में लौटें तो सुरक्षित महसूस करें।

ऐसा तभी मुमकिन होगा जब वे एक बस्ती में एकजुट इकाई की तरह रहें।" उन्होंने कहा, "मैं केंद्र सरकार से आग्रह करता हूं कि वह इस बस्ती का एक स्मार्ट सिटी के रूप में निर्माण करने पर विचार करे। देश के कुछ सर्वश्रेष्ठ चिकित्सक, शिक्षाविद और आईटी पेशेवर पंडित समुदाय से आते हैं।" उन्होंने कहा, "अगर बस्ती का विकास स्मार्ट सिटी के तौर पर होता है, तो यह पूरी कश्मीर घाटी के लिए फायदेमंद होगा।"

अनुपम ने कश्मीरी पंडितों के पुनर्वास के बारे में झूठी बातें प्रसारित करने के लिए अलगाववादियों और कश्मीर की राजनीतिक पार्टियों की निंदा की। उन्होंने कहा, "कश्मीरी पंडित भारत के स्वतंत्र नागरिक हैं और इसका फैसला उन्हें करना चाहिए कि वे कहां और कैसे रहना चाहते हैं। हम पर किसी को भी अपनी शर्ते नहीं थोपनी चाहिए, कम से कम उन अलगाववादियों और आंतकवादियों को तो बिल्कुल नहीं जो हमारे पलायन के लिए जिम्मेदार थे।"

<

Popular Stories
?