पेरिस : अपनी फ्रांस यात्रा से बिदाई लेते हुये भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने न केवल फ्रांस वासियों को धन्यवाद दिया वहीं फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद को कलाकृति का तोहफा भी भेंट किया। इस अवसर पर ओलांद ने कहा कि वे मोदी के तोहफे से गदगद है और इसे हमेशा सहेजकर रखेंगे। फ्रांस से बिदाई के वक्त मोदी ने यह कहा कि मेरी यात्रा के दौरान हम काफी आगे बढ़े है, इसके लिये फ्रांस की सरकार और वहां के लोगों को वे अपनी ओर से धन्यवाद देते है।
 
मोदी ने जिस कल्पतरू नाम की कलाकृति को भेंट किया, वह भारत में प्रकृति के प्रति पारंपरिक सामाजिक आदर का प्रतीक है। इस कलाकृति का निर्माण ओडिशा के रघुराजपुर निवासी भास्कर महापात्रा ने किया है, इसमें उन्होंने रेशम पर रंगों का उपयोग कर अपने हुनर का परिचय दिया है। गौरतलब है कि चित्रकार भास्कर ललित कला अकादमी पुरस्कार से भी सम्मानित हो चुके है।
 
गले मिलकर हुये भाव विभोर-
 
फ्रांस की यात्रा के बाद भारत के प्रधानमंत्री मोदी जर्मनी के लिये रवाना हुये। बिदाई लेते वक्त मोदी और ओलांद एक दूसरे के गले तो मिले ही, बिदाई देते समय ओलांद व मोदी भावविभोर भी हो गये। मोदी ने अपनी पहली यात्रा को संपन्न करते हुये फ्रांस को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के संबंध और अधिक मजबूत होंगे, इसका उन्हें पूरा विश्वास है। आपको बता दें कि फ्रांस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच विभिन्न समझौतों पर हस्ताक्षर हुये है।
 
Popular Stories
?