नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी में दान वापस लेने का मामला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उपहार में दी गई ब्लू रंग की बैगनऑर कार मांगने के बाद उनके समर्थक डिनर के नाम पर दिए गए चंदे की रकम को वापस करने की मांग कर रहे हैं। चंदा मागने वाले समर्थक आप पार्टी में मची घमासान से दुखी हैं और उनका भरोसा केजरीवाल से उठता जा रहा है। ऐसे ही समर्थकों में शामिल बुराड़ी निवासी बुजुर्ग सीपी सिंह भी हैं।

उन्होंने दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान आप की ओर से बुराड़ी में आयोजित केजरीवाल के साथ डिनर के मौके पर उन्हें एक लाख रुपये दान में दिए थे। वह मूल रूप से हरियाणा के भिवानी के हैं, लेकिन अब उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर चंदे में दी गई रकम वापस करने की मांग की है। जिस तरह से केजरीवाल का रवैया हिटलर जैसा हो गया है, उससे उनका भरोसा टूटा है। योगेंद्र यादव व प्रशांत भूषण ही केजरीवाल पर नियंत्रण रख सकते थे, लेकिन उन्होंने दोनों को ही निकाल दिया। अब उन्हें पछतावा है कि उन्होंने पार्टी को एक लाख रुपये क्यों दिए?

और पढ़िए . .

वोटिंग का अधिकार मुस्लिमों से छीन लेना चाहिए : शिवसेना

कांग्रेस नेता राणे का बेटा हिरासत में

Popular Stories
?