जानिए क्या है CAA

CAA का पूरा नाम है नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019

वर्ष 2016 में नागरिकता संशोधन विधेयक सीएए पेश किया गया था

11 दिसंबर 2019 को CAA पारित हुआ था

सीएए का उद्देश्य गैर-मुस्लिम प्रवासियों को भारतीय नागरिकता प्रदान करना है

CAA का फायदा दिसंबर 2014 से पहले भारत आने वाले गैर-मुस्लिम प्रवासियों को मिलेगा

गैर-मुस्लिम प्रवासी जिनमें हिंदू, सिख, जैन, बौद्ध, पारसी और ईसाई शामिल है

बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के लोग ही नागरिकता के लिए आवेदन करने के योग्य होंगे

सीएए के तहत नागरिकता आवेदन की प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन रखी गई है

आवेदकों को बताना होगा कि वे भारत कब आए है

नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 से भारतीय नागरिकों का कोई सरोकार नहीं है

Next : टीबी से परेशान मरीज करें इन चीजों का सेवन