उत्तर प्रदेश: हिन्दू-मुस्लिम एकता के बीच फिर आया लाउडस्पीकर, गुड़गांव में सील हुई मस्जिद

Sep 12 2018 06:22 PM

लखनऊ: गुडगाँव के शीतला माता कॉलोनी में मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकरों पर मचे विवाद के एक हफ्ते बाद, आज बुधवार को गुडगाँव नगरनिगम ने मस्जिद को सील कर दिया है. इस मामले में एमसीजी कमिश्नर ने कहा कि यह भारतीय वायुसेना (आईएएफ) गोला बारूद डिपो के बहुत करीब है. कुछ दिन पहले क्षेत्र में कुछ हिन्दू लोगों ने लाउडस्पीकरों की आवाज़ से परेशानी होने के कारण आपत्ति उठाई थी, जिसके कुछ दिन बाद नगर निगम द्वारा ये कदम उठाया गया है.एमसीजी आयुक्त यशपाल यादव ने कहा कि पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के आदेश के मुताबिक मस्जिद को बंद किया गया है, क्योंकि कानून के अनुसार आईएएफ डिपो के 300 मीटर के दायरे के अंदर किसी भी तरह का निर्माण प्रतिबंधित है, और मस्जिद उसी दायरे में आती है, इसीलिए उसे सील किया गया है. 

क्या कहता है मुस्लिम संगठन ? इससे पहले 6 सितम्बर को मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा डिप्टी कमिश्नर से मुलाकात की गई थी, जिसमे मुस्लिम एकता मंच के कार्यकर्ताओं ने कमिश्नर को एक पत्र देते हुए आरोप लगाया था कि "दो-तीन दिन पहले कुछ असामाजिक तत्व हमारे इलाके में आए थे, उन्होंने हमारे खिलाफ पुलिस कमिश्नर को पत्र भी दिया था, जिसके बाद 5 सितम्बर को सेक्टर 5 के एस.एच.ओ ने दोनों दलों को बुलाकर लाउड स्पीकर की आवाज़ कम करने के लिए कहा था." मुस्लिम एकता मंच के अध्यक्ष हाजी शहजाद खान ने आरोप लगाया कि लाउडस्पीकर की आवाज़ कम करने के बाद भी गांव के बाहर के कुछ हिन्दू संतुष्ट नहीं हुए, उन्हें गांव में एक मस्जिद खलने लगी और उन्होंने हमे जान से मारने और हमारे घरों को जला देने की धमकी दी है.

हिंदूवादियों का क्या है तर्क ? हिंदू संगठनों के प्रतिनिधियों ने कहा है कि वे गुरुवार (6 सितंबर) को डीसी से नहीं मिल सके क्योंकि वह "अन्य बैठकों में व्यस्त थे". उन्होंने कहा कि  "तीन मंजिला घरों में प्रार्थनाओं के लिए लाउडस्पीकरों के इस्तेमाल पर संगठन ने बुधवार को विरोध किया था. अखिल भारतीय हिंदू क्रांति दल के राष्ट्रीय महासचिव राजीव मित्तल ने कहा था कि एसएचओ को एक पत्र भी दिया गया था, जिसमें माइक और लाउडस्पीकरों के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने और घर पर नमाज पढ़ने पर प्रतिबंध लगाया गया था. 

खबरें और भी:-

जम्मू कश्मीर: मुख्य सचिव ने की घोषणा, निर्धारित समय पर होंगे चुनाव

पेट्रो केमिकल फैक्ट्री में फटा बॉइलर, कई मजदूरों ने गंवाई अपनी जान

Hindi Diwas 2018: राष्ट्रपति कोविंद का विदेश में हिंदी गानों से स्वागत

Related News