इस फिल्म के बचाव में उतरे नील आर्मस्ट्रांग के दोनों बेटे, दिया यह बयान

Sep 02 2018 06:50 PM

चाँद की सतह पर विश्व में पहला कदम रखने वाले नील आर्मस्ट्रांग के बेटों और फ्रेंच-अमेरिकी निर्देशक डैमियन चैजले ने अब फिल्म 'फर्स्ट मैन' में झंडा गाड़ने का दृश्य न होने का बचाव किया है. बता दें कि इस फिल्म की फिल्म की कहानी 1969 में मानव के चांद पर उतरने पर आधारित है. ख़बरों के मुताबिक, फिल्म से झंडा गाड़ने का दृश्य नदारद होने को देशभक्ति की भावना के खिलाफ बताए जाने के बाद रिक आर्मस्ट्रांग और मार्क आर्म्सट्रांग ने 'फर्स्ट मैन' के लेखक जेम्स आर. हेंसन से मिलकर शुक्रवार को संयुक्त रूप से एक बयान जारी किया है. 

हॉलीवुड रैपर एमिनेम ने 'रैप' में भारत और महात्मा गांधी को किया याद   तीनों द्वारा एक संयुक्त बयान में कहा गया है कि "हमें नहीं लगता कि दृश्य को नहीं दिखाए जाने के चलते यह फिल्म अमेरिका विरोधी फिल्म है. बयान में आगे कहा गया है कि इसके बिल्कुल विपरीत, लेकिन हमारे शब्दों को गलत अर्थ में न लिया जाएं. हम सबको इस असाधारण फिल्म को देखने और खुद के लिए देखने के लिए प्रेरित करते रहते हैं. 

जानिए कहां छुट्टियों का मजा ले रहे हैं प्रियंका-निक, तस्वीरें हुई वायरल

चैजले द्वारा निर्देशित फिल्म 'फर्स्ट मैन' की कहानी हेंसन की किताब 'फर्स्ट मैन : द लाइफ चाँद पर पहला कदम रखने वाले नील ए. आर्म्सट्रांग' पर आधारित है. इस फिल्म के पटकथा लेखक जोश सिंगर हैं. बता दें कि हल ही में इस फिल्म का बुधवार को वेनिस फिल्म महोत्सव में वर्ल्ड प्रीमियर हुआ था. आपको जानकारी के लिए बता दें कि 82 साल की उम्र में नील आर्म्सट्रांग का वर्ष 2012 में निधन हो गया था. 

हॉलीवुड अपडेट्स...

 

एक बार फिर हॉटनेस से भरी नजर आईं किम कार्दर्शियन

ब्लैक बिकिनी में फैंस को घायल कर रही है लाॅरा एंडरसन, ऐसे दिखाए अपने क्लीवेज

इस फिल्म में नहीं दिखाई देंगे एलेक बाल्डविन

Related News