वर्षों से प्रताड़ित हो रहे हैं हिंदू, अब एकजुट होना होगा : मोहन भगवत

Sep 08 2018 03:58 PM

वॉशिंगटन।  अमेरिका के शिकागो में चल रहे विश्व हिंदू कांग्रेस के कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने भारत और अमेरिका समेत पूरी दुनिया में रह रहे हिन्दुओं से एकजुट रहने की अपील की है। 

धर्म का मतलब सिर्फ धार्मिक अनुष्ठान नहीं - मोहन भागवत

विश्व हिंदू कांग्रेस के इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा है कि भारत समेत दुनिया भर में हिंदू वर्षों से प्रताड़ित होते आ रहे है लेकिन अब हिन्दुओं को एकजुट होना होगा। उन्होंने कहा है कि अब धार्मिक एकता दिखाने का वक्त आ गया है।  उन्होंने यह भी कहा कि हिन्दुओं के प्रताड़ित होने की मुख्य वजह यह है कि हिन्दू अब आध्यात्मिकता और अपने मूल सिद्धांतों का पालन करना भूल गये हैं।

कांग्रेस नेताओं की राहुल गांधी को सलाह, आरएसएस से दूर रहना ही बेहतर

गौरतलब है कि विश्व हिंदू कांग्रेस द्वारा आयोजित यह कार्यक्रम  7 सितंबर से 9 सितंबर तक चलेगा। इस कार्यक्रम में 80 देशों के 2500 से ज्यादा नेता और हिन्दू कार्यकर्ता शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में मोहन भागवत के अलावा तिब्बती आध्यात्मिक गुरू दलाई लामा, सूरीनाम के उप-राष्ट्रपति अश्विन अधीन,  श्री श्री रविशंकर, आरएसएस के संयुक्त सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले,  मोहनदास पई, एमआईटी के प्रोफेसर एस पी कोठारी, अनुपम खेर, राजू रेड्डी, स्वामी परमात्मानंद सरस्वती, चंद्रिका टंडन, समेत कई अन्य बड़े नेता भी इस सम्मेलन में शामिल हो चुके है या फिर आगामी दिनों में शामिल होंगे। 

ख़बरें और भी 

शिकागो में आयोजित होगी विश्व हिंदू कांग्रेस, RSS चीफ मोहन भागवत समेत 80 देशों के 2500 से ज्यादा नेता होंगे शामिल

धर्म पर सियासत: भाजपा के राम के बाद अब अखिलेश ने अपनाए कृष्ण

राहुल गाँधी पर आरएसएस का करारा प्रहार कहा, जो भारत को नहीं समझता, वो संघ को क्या समझेगा

Related News