केरल नन रेप केस: केरल पुलिस ने की पुष्टि, बिशप ने किया था बलात्कार

Sep 12 2018 03:07 PM

कोच्ची: केरल नन रेप केस में केरल पुलिस के एक ज्ञापन में खुलासा हुआ है की जालंधर के बिशप फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ नन द्वारा लगाए गए आरोप सत्य हैं, बिशप ने नन के साथ कई बार बलात्कार किया है और अप्राकृतिक यौन सम्बन्ध बनाए हैं. केरल की हाई कोर्ट के बाहर बिशप की गिरफ़्तारी को लेकर लगातार 6 दिन के प्रदर्शन के बाद यह खुलासा हुआ है. 13 अगस्त की तारीख वाले मेमो में छः सदस्यीय टीम के निष्कर्ष शामिल थे, ये टीम मामले में सबूत रिकॉर्ड करने के लिए कोट्टायम से जलंधर गए थे. 

केरल नन रेप केस: नन ने वेटिकन को दी चेतावनी, कहा चर्च के लिए घातक हो सकता है चुप रहना

यह अतिरिक्त महानिदेशक (केरल) और राज्य के सार्वजनिक अभियोजक द्वारा प्रस्तुत किया गया था.अपने ज्ञापन में, जांच अधिकारियों की टीम ने कहा कि शिकायतकर्ता की एक चिकित्सा जांच से पता चला है कि उसका हाइमन टूट गया था जो अप्राकृतिक सेक्स या बलात्कार के कार्य की पुष्टि करता है. यह ज्ञापन एक मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया था. उल्लेखनीय है कि इससे पहले इस सप्ताह की शुरुआत में आरोपी बिशप ने एक सार्वजनिक बयान जारी किया जिसमें उन्होंने 44 वर्षीय नन द्वारा उनके खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों से इनकार कर दिया था.

केरल नन रेप केस: विधायक ने बताया नन को वेश्या, एनसीडब्ल्यू ने की कार्यवाही की मांग

उन्होंने आगे दावा किया था कि केरल में बाढ़ के कारण पुलिस रिपोर्ट में देरी हुई थी और जब भी आवश्यक हो, वह जांच एजेंसियों के साथ सहयोग करने के लिए तैयार है. अभियुक्त बिशप ने यह भी दावा किया कि उनके खिलाफ किए जा रहे विरोधों में एक बड़ी तस्वीर शामिल है और यह उनके खिलाफ षड्यंत्र है. आपको बता दें कि कुछ महीनों पहले केरल की एक नन ने आरोप लगाया था कि 2014 से 2016 के बीच जालंधर के बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने उनके साथ कई बार बलात्कार और अप्राकृतिक दुष्कर्म किया है. 

खबरें और भी:-​

केरल नन रेप केस: बिशप की गिरफ़्तारी को लेकर कैथोलिक समुदाय का उग्र प्रदर्शन

भूकंप के झटके से हिल उठा हरियाणा और जम्मू-कश्मीर

पेट्रो केमिकल फैक्ट्री में फटा बॉइलर, कई मजदूरों ने गंवाई अपनी जान

Related News