ब्रम्हपुत्र नदी पर बन रहा देश का सबसे लम्बा रेलवे ब्रिज

Sep 09 2018 04:57 PM

गुवाहाटी: आईआईटी मद्रास के शिक्षक एस पोन्नुस्वामी वर्ष 1988 में छपी एक किताब के सह-लेखक रहे थे, जिसमे बताया गया था कि 1968 तक ब्रह्मपुत्र भारत की एकमात्र ऐसी नदी थी, जिसकी पूरी लम्बाई पर एक भी सड़क,रेलवे या किसी तरह का पुल नहीं बना था. लेकिन अब कई हिस्सों में 10 किलोमीटर से ज्यादा लम्बे पाट वाली ब्रम्हपुत्र नदी पर देश का सबसे लम्बा रेलवे पुल बनने जा रहा है, इस पुल की लम्बाई 4.94 किलोमीटर होगी. इस पुल के लिए भारतीय सुरक्षाबल और पूर्वोत्तर भारत के निवासी लगभग 5 दशक से मांग कर रहे थे.

केरल नन रेप केस: विधायक ने बताया नन को वेश्या, एनसीडब्ल्यू ने की कार्यवाही की मांग

असम के मुख्यमंत्री सरबानंद सोनोवाल ने पुल के निर्माण पर प्रगति का निरीक्षण करने के लिए की गई हालिया यात्रा के बाद कहा, "सीमावर्ती इलाकों में राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूत करने के अलावा, बोगिबेल पुल क्षेत्र में आर्थिक विकास के एक नए युग की शुरुआत करेगा." डिब्रूगढ़ शहर के लगभग 17 किमी की दूरी पर स्थित, पुल असम और अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी हिस्से में ब्रह्मपुत्र के उत्तर और दक्षिण तटों के बीच सड़क और रेल कनेक्टिविटी की सुविधा प्रदान करेगा.

बीजेपी की कार्यकारिणी बैठक में गरजे अमित शाह, कहा भाजपा को कोई पराजित नहीं कर सकता

ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (एएएसयू) के महासचिव लूरिनज्योति गोगोई ने कहा, "इस पुल से बहुत सारी भावनाएं जुड़ी हुई हैं क्योंकि यह 1985 के असम समझौते का हिस्सा थी, लेकिन इसमें काफी समय लग रहा है." आपको बता दें कि इस पुल की आधारशिला जनवरी 1997 में तात्कालीन प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा द्वारा रखी गई थी, लेकिन इसका निर्माण अप्रैल 2002 में अटलबिहारी वाजपेयी की सरकार द्वारा शुरू कित्या गया, अटल बिहारी ने ही इसके निर्माण का उद्घाटन भी किया था.

खबरें और भी:-​

बेघर दंपत्ति ने मूक-बधिर महिला को लिया गोद, मदद के लिए सरकार से लगाई गुहार

कश्मीर की समस्याओं के पीछे है इस नेता का हाथ?

अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस : जानिये कबसे और किसलिए मनाया जाता है यह ख़ास दिन

Related News