18वें एशियाई खेलों में भारत ने पहली बार दिखाए ये 12 कारनामे

Sep 06 2018 02:33 PM

नई दिल्ली।  इंडोनेशिया के जकार्ता में हाल ही में संपन्न हुए 18वें एशियाई खेलों में भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी लगन और कड़ी मेहनत से देश के लिए कई मैडल जित कर पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है। इन खिलाड़ियों की हर जगह वाहवाही हो रही है और उन्हें विभिन्न जगहों पर सम्मानित भी किया जा रहा है। इसी कड़ी में कल भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इन खिलाड़ियों के साथ मुलाकात कर के उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी थी। 

लेकिन क्या आप जानते है कि इन खेलों में इस बार भारत ने ऐसे कई कारनामे भी कर दिखाए है जो देश की तरफ से पहले कभी नहीं किये गए। तो आइये हम आपको बताते है 18वें एशियाई खेलों में भारतीय खिलाड़ियों के ऐसे ही 12 कारनामे। 

पहली बार जीते इतने पदक 

एशियन गेम्स 2018 में भारतीय खिलाडियों ने अब तक का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन दिखाते हुए कुल 69 मेडल पर जीत हासिल की है। इनमे 15 स्वर्ण, 24 रजत और 30 कांस्य पदक है। इसके साथ ही भारत ने 2010 के एशियाई गेम्स में बनाया अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 2010 में भारत ने 16वें एशियाई खेलों में 65 पदक जीते थे। 

अब तक के सबसे ज्यादा गोल्ड

18 वे एशियाई खेलों में भारत ने सबसे ज्यादा गोल्ड मैडल जितने के मामले में अपने ही रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। भारत ने इससे पहले साल 1951 में नई दिल्ली में आयोजित हुए एशियन गेम्स में 15 स्वर्ण पदक जीते थे। और अब 18वें एशियाई खेलों में भी भारत ने 15 स्वर्ण पदक जीत कर पिछले 67 सालों का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 

सबसे कम उम्र का पदक विजेता

15 वर्षीय भारतीय निशानेबाज विहान 18 वे एशियाई खेलों में सबसे काम उम्र में मैडल जितने वाले भारतीय बन गए है। उन्होंने पुरुष निशानेबाजी की डबल ट्रैप में सिल्वर मेडल हासिल किया है। वह निशानेबाजी की डबल ट्रैप में दूसरे स्थान पर आये थे। 

सबसे कम उम्र में स्वर्ण पदक 

इसी तरह 16 वर्षीय भारतीय खिलाडी सौरभ चौधरी ने भी 10 मीटर एयर पिस्टल में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता है। इस तरह वे एशियाई खेलों में सबसे कम उम्र में स्वर्ण पदक जीतने वाले खिलाड़ी भी बन गए है। 

सबसे ज्यादा उम्र में पदक 

सबसे कम उम्र में स्वर्ण पदक जितने के साथ इस बार सबसे ज्यादा उम्र में पदक जितने का ख़िताब भी भारत तो ही मिला है। भारत के 56 वर्षीय शिबनाथ और 60 वर्षीय प्रणब बर्धन ने भारत को ब्रिज में स्वर्ण पदक दिलाया है। इसके साथ ही प्रणब बर्धन एशियाई खेलों में  दक जीतने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन गए हैं। 

 

महिला कुश्ती में पहली बार जीता गोल्ड 

18 वे एशियाई खेलों में भारत ने महिला कुश्ती में भी पहली बार गोल्ड  जीत कर एक नया रिकॉर्ड बनाया है।  यह रिकॉर्ड भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगाट ने 50 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती में स्वर्ण पदक जीत कर अपने नाम किया है। 

महिला निशानेबाज़ी में पहला गोल्ड

भारतीय महिला निशानेबाज़ी राही सर्नोबत भी 25 मीटर पिस्टल शूटिंग में गोल्ड मेडल जीत कर ऐसा करने वाली पहली भारतीय महिला निशानेबाज बन गई है। 

टेबल टेनिस में देश का पहला पदक

18 वे एशियाई खेलों में भारत ने टेबल टेनिस में भी देश का पहला पदक जीता है। इन खेलो में भारत की  पुरुष टीम ने  टेबल टेनिस स्पर्धा  और मिक्स्ड डबल्स स्पर्धा में कांस्य पदक जीता है । 

कांस्य पदक के लिए भिड़े भारत-पाकिस्तान 

एशियाई खेलों के इतिहास में 18 एशियन गेम्स में ऐसा पहली बार हुआ है जब कांस्य पदक के लिए भारत और पाकिस्तान आपस में भिड़े हो। इस मैच में भारत ने पाकिस्तान को 2-1 से मात दी थी। 

पहली बार कबड्डी में नहीं मिला गोल्ड  इन सभी रिकॉर्ड्स के बीच इस बार एक निराशाजनक चीज भी पहली बार ही हुई। दरअसल 18 वे एशियन गेम्स में भारत ने पहली बार कबड्डी में गोल्ड नहीं मिला है। भारतीय टीम को इस साल पहली बार कबड्डी में रजत और कांस्य पदक से समझौता करना पड़ा है। 

भालाफेंक में पहली बार जीता गोल्ड  18वें एशियाई खेलों में भारत ने भालाफेंक में पहली बार गोल्ड मैडल जीता है। यह पदक 20 वर्षीय इस खिलाड़ी  नीरज चोपड़ा ने जीता है। 

बैडमिंटन में पहली बार रजत

18वें एशियाई खेलों में भारत ने पहली बार बैडमिंटन में रजत पदक जीता है। भारत को यह पदक  शटलर पीवी सिंधू ने दिलाया है 

 

यह भी पढ़े 

आईएसएसएफ : सौरभ चौधरी ने एशियाई खेलों के बाद आईएसएसएफ में जीता गोल्ड

यूएस ओपन: कांटे की टक्कर के बाद राफेल नडाल ने जीता क्वार्टर फाइनल

सुर्खियां: ये है देश और दुनिया की आज की सबसे बड़ी ख़बरें

आर पी सिंह ने की सन्यास की घोषणा, ये है उनका रिटायरमेंट प्लान

एशिआई खेलो के विजेताओं से मिले पीएम मोदी, बोले आपने देश का गौरव बढ़ाया है परन्तु अब ध्यान भटकने न दे

 

Related News