राशिफल

तुला (Libra) राशि के बारे में

- 25 Sep 2017, Monday

अधिकारियों का सहयोग मिलेगा, शुभ कार्यों की रूपरेखा भी बन सकती है, शाम का समय यूं ही व्यर्थ जायेगा, लेकिन नौकरी में स्थान परिवर्तन भी होने की सूचना मिल सकती है। खुद का काम करने की यदि सोच रहे है तो यह निर्णय आज नहीं लिया जाना चाहिये।

साप्ताहिक राशिफल तुला (Libra)

- 25 Sep 2017, Monday

अधिकारियों का सहयोग मिलेगा, शुभ कार्यों की रूपरेखा भी बन सकती है, शाम का समय यूं ही व्यर्थ जायेगा, लेकिन नौकरी में स्थान परिवर्तन भी होने की सूचना मिल सकती है। खुद का काम करने की यदि सोच रहे है तो यह निर्णय आज नहीं लिया जाना चाहिये।

स्वास्थ्य की चिंता बनी रहेगी, परिवार में मांगलिक कार्यों की रूपरेखा बनेगी, कहीं बाहर जाने का भी योग बनेगा, महिलाओं को सफलता मिलेगी। व्यापारियों के लिये समय अनुकूल रहेगा, विद्यार्थियों, नौकरीपेशा लोगों को मनोवांछित फल की प्राप्ति होगी। सप्ताह में भगवान गणेश की आराधना श्रेष्ठ रहेगी। हो सके तो बुधवार का उपवास भी किया जा सकता है।

तुला राशि के जातकों के लिए समय पक्ष का है और आगे भी ऐसा ही बना रहेगा। कार्यक्षेत्र में आपको अपनी कमजोरियों और व्यक्तिगत सहभागिता की कमी का अहसास है। आप इसी को ध्यान में रखते हुए नई योजना बनाएंगे। भावी क्लायंट के साथ-साथ अपने सहयोगी टीममेट्स और साथियों से मीटिंग और बात-चीत आपको अपने व्यापार के इंफ्रास्ट्रक्चर और उसे विस्तार देने में मदद करेगी। यदि कोई कानूनी फैसला अटका हुआ है तो वह आपके पक्ष में आएगा। आप अपने बिजनेस पार्टनर्स और परिवार के साथ सफलता का उत्सव मनाएंगे। प्रेम जीवन शांतिपूर्ण रहेगा मजेदार गुजरेगा।

तुला राशिफल 2015 के अनुसार, इस साल शनि आपके दूसरे भाव में है, वहीं राहु आपके बारहवें भाव में है जबकि केतु आपके छठे भाव में स्थित रहेगा। देवगुरु बृहस्पति की बात की जाए तो वह साल के पहले भाग में आपके कर्म स्थान में रहेंगे वहीं साल के दूसरे भाग में गुरु आपके लाभ भाव में रहेंगे। इन ग्रहों का आप पर क्या प्रभाव पड़ने वाला है, आइए जानते हैं। तुला राशिफल 2015 के मुताबिक, यह वर्ष आपके पारिवारिक मामलों के लिए मिले जुले परिणाम देने वाला रहेगा। साल के पहले भाग में बृहस्पति आपके चतुर्थ और दूसरे भाव पर दृष्टि डाल रहा है जबकि शनि दूसरे भाव में स्थित होकर दूसरे और चौथे भाव को प्रभावित कर रहा है। अत: साल के पहले भाग में कुछ विसंगति आएंगी तो सही लेकिन आप उन्हें मैनेज कर लेंगे। यदि आर्थिक या जमीन जायदाद से सम्बंधित कोई पारिवारिक मामला है तो उसमें संयम और प्यार के साथ साल के पहले भाग में सुलझाने की कोशिश करें क्योंकि साल के दूसरे भाग में इन मामलों में देवगुरु बृहस्पति अधिक मदद नहीं पर पाएंगे। तुला भविष्यफल 2015 आपको सचेत करता है कि साल के दूसरे भाग में मां के स्वास्थ्य का ख़्याल रखें और पारिवारिक विवादों को बढ़ने से रोकें। इस साल आपकी राशि के दोनों तरफ पाप ग्रह मौजूद हैं। 2015 तुला राशिफल कह रहा है कि आपके बारहवें भाव में राहु तो दूसरे भाव में शनि स्थित रहेगा। अत: स्वास्थ्य के लिहाज से यह वर्ष कम अनुकूल है। इस वर्ष स्वास्थ्य को लेकर किसी प्रकार की लापरवाही उचित नहीं होगी। मानसिक चिन्ताओं के कारण तकलीफ सम्भव है या किसी रिश्तेदार को लेकर चिंता रह सकती है। हालांकि साल के पहले भाग में बृहस्पति की चतुर्थ भाव में स्थिति के कारण मानसिक शांति रहेगी लेकिन साल के दूसरे भाग में चिंताएं कुछ बढ़ सकती हैं। हालांकि तुला राशिफल 2015 के मुताबिक़ कोई नज़दीकी या प्रिय व्यक्ति मानसिक शांति बनाए रखने में मददगार होगा। प्रेम प्रसंगों के लिए यह वर्ष ठीक रहने वाला है। साल के पहले भाग में तुला 2015 राशिफल के अनुसार, बृहस्पति की दृष्टि आपके पंचमेश शानि पर है अत: प्रेम प्रसंग में किसी तरह का बड़ा व्यवधान आता प्रतीत नहीं हो रहा है। लेकिन वाणी स्थान पर शनि की उपस्थिति को देखते हुए आपको अपने प्रेम पात्र या जीवन साथी के साथ किसी भी तरह का अप्रिय का संभाषण करने से बचना होगा। इस समय प्रियजनों पर किसी तरह का संदेह करना भी ठीक नहीं रहेगा। ऐसा करके आप रिश्ते न बिगाड़े। वर्ष के दूसरे भाग में आपको मित्र की अच्छाइयां नजर आने लगेंगी और तुला राशिफल के मुताबिक बिगड़े रिश्ते सुधर जाएंगे। विवाह और सगाई के लिए भी साल का दूसरा भाग शुभ रहेगा। तुला 2015 राशिफल बता रहा है कि साल की शुरुआत में बृहस्पति आपके कर्म स्थान पर ही रहेंगे अत: काम तो बनते रहेंगे लेकिन थोड़े बहुत व्यवधान रह सकते हैं। यदि आप कुछ नया करने जा रहे हैं तो उस क्षेत्र से जुड़े अनुभवी लोगों की सलाह जरूर लें। यदि आप का व्यापार भागीदारी में है तो तुला राशिफल 2015 आपको सलाह देता है कि सम्बंधों को और भी बेहतर करने की कोशिश करें। साल के दूसरे भाग में मेहनत का फल जरूर मिलेगा फ़िर भी शनि के दूसरे भाव में उपस्थिति को देखते हुए जल्दबाजी में निवेशादि से बचना होगा। धन के कारक ग्रह बृहस्पति की दृष्टि साल के पहले भाग में आपके धन स्थान पर है अत: तुला भविष्यफल 2015 के अनुसार धनार्जन होना स्वाभाविक है। लेकिन शनि की दूसरे भाव में स्थिति को देखते हुए ये कहना उचित होगा कि शायद आर्थिक मामलों में निरंतरता न रह पाए। हालांकि बीच-बीच में अचानक धन लाभ होने की संभावना जरूर बन रही है। लेकिन जोखिम उठाने के लिए भी समय ठीक नहीं है। तुला राशिफल 2015 कहता है कि साल के दूसरे भाग में आमदनी में इजाफा होगा लेकिन निवेश के मामलों में सावधानी रखनी होगी। तुला राशिफल 2015 के मुताबिक, साल का पहला भाग प्रारम्भिक शिक्षा प्राप्त करने वालों को कड़ी मेहनत करने पर सफलता देने का संकेत कर रहा है। हालांकि उच्च शिक्षा के लिए साल का पहला भाग शुभ रहेगा। वहीं साल के दूसरे भाग में परिणाम ठीक इसके उलट हो जाएंगे। यानी कि प्रारम्भिक शिक्षा प्राप्त करने वालों को बेहतर परिणाम मिलेंगे जबकि उच्च शिक्षार्थियों को मेहनत करनी पड़ेगी। उपाय माथे पर दही का तिलक लगाएं। भगवान शिव की पूजा आराधना करें। आशा है कि तुला 2015 राशिफल से आप जरूर लाभान्वित होंगे। वर्ष 2015 आपके जीवन में बहुत सारी खुशियां लाए।

Popular Stories