नोटबंदी के बाद अघोषित आय पर कर से जुटाए 6 हजार करोड़

Mar 18 2017 09:51 AM
नोटबंदी के बाद अघोषित आय पर कर से जुटाए 6 हजार करोड़

नई दिल्ली : नोटबन्दी के दौरान भले ही लोगों ने परेशानी उठाई हो, लेकिन सरकार ने नोटबन्दी के बाद अघोषित आय पर टेक्स के रूप में करीब 6 हजार करोड़ रुपए जुटा लिए हैं.जबकि अभी और संभावनाएं बनी हुई है. यह बात काले धन के खिलाफ बनाई गई एसआईटी के वाइस चेयरमैन जस्टिस अरिजित पसायत ने शुक्रवार को कही.

गौरतलब है कि 500 और 1000 के पुराने नोटों को बन्द कर दिए जाने के बाद कर अधिकारियों ने उन लोगों से ब्यौरा मांगा था जिन्होंने एक मुश्त रुपया अपने और दूसरों के खातों में जमा कराया था. हालांकि, कई लोग सजा से बचने के लिए अपनी अघोषित आय पर 60 प्रतिशत टैक्स पेनल्टी देने को तैयार हो गए, जो कि अब बढ़ा कर 75 फीसदी कर दी गई है.पसायत ने कहा कि टैक्स अधिकारियों ने अब तक करीब 6,000 करोड़ रुपये इकट्ठे किए हैं.

एसआईटी के वाइस चेयरमैन ने यह नहीं बताया कि इससे कुल कितना नकद जुटाया जा सकता है, लेकिन यह कहा कि यह बड़ी राशि होगी. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के पहले चरण में काले धन के खिलाफ अभियान चलाया गया, जिसमें 50 लाख या उससे अधिक जमा करने वालों पर नजर रखी गई.  कई लोग सजा से बचने के लिए टैक्स देने को सहमत हो गए.

यह भी पढ़ें

अब बेनामी संपत्ती पाई गई तो जाना होगी जेल

50 लाख के पुराने नोटों के साथ हवाई अड्डे पर महिला गिरफ्तार

 

क्रिकेट से जुडी ताजा खबर हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App