News Trending

अमेरिका के नये राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के संरक्षणवादी बयानों से जहां पूरी दुनिया चिंतित है, वहीं भारत के प्रमुख उद्योग रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बुधवार को स्थानीय सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग को सलाह दी और कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति के रुख को बिन मांगे वरदान के रूप में स्वीकार करें और भारत के बाजार पर ध्यान दें।

उद्योगपति और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने मुंबई में हो रहे एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लिए अच्छे साबित हो सकते हैं। मुंबई में तीन दिन तक चलने वाले नासकॉम इंडिया लीडरशिप फोरम को संबोधित करते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि हमें वैश्विक व्यापार के लिए खुला रहना होगा और दुनिया मे हो रहे बदलावों से प्रभावित नहीं होना चाहिए जहां दीवारें खड़ी की जा रही हैं। अंबानी ने नासकाम सम्मेलन में कहा कि, 'ट्रंप वास्तव में घरेलू सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग अपने यहा कि समस्याओं के समाधान तैयार करने पर ध्यान दे सकते है।

यह बयान उस समय आया है जब भारतीय सॉफ्टवेयर और सॉफ्टवेयर सेवा प्रदाता कंपनियों के मंच नासकॉम ने अपने वार्षिक वृद्धि के अनुमानों की घोषणा को मई 2017 के लिए टाल दिया क्योंकि यह उद्योग ट्रंप की नीतियों के बारे में स्थिति स्पष्ट होने का इंतजार करना चाहता है। आपको बता दे कि ट्रंप ने 20 जनवरी को अपना कार्यभार ग्रहण किया। 

वन चाइना नीति पर चीन के साथ ट्रंप

जानें ट्रंप की सेरेमनी से जुड़ी 10 बड़ी बातें