बांद्राभान में नर्मदा नदी के तट पर हुआ दवे का अंतिम संस्कार

बांद्राभान में नर्मदा नदी के तट पर हुआ दवे का अंतिम संस्कार

भोपाल : केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा नेता अनिल माधव दवे का आज शुक्रवार (19 मई) को उनकी अंतिम इच्छा के अनुसार होशंगाबाद जिले के बांद्राभान में नर्मदा नदी के तट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया. दवे की चिता को मुखाग्नि उनके भाई एवं भतीजे ने दी. इस मौके पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित केंद्रीय मंत्री और आरएसएस के वरिष्ठ मौजूद थे.यह जानकारी भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने दी.

प्रवक्ता से मिली जानकारी के अनुसार इसके पूर्व अनिल माधव दवे का पार्थिव शरीर भोपाल के शिवाजी नगर स्थित उनके निवास ‘नदी का घर’ से आज (शुक्रवार, 19 मई) सुबह बांद्राभान ले जाया गया. इस दौरान मुख्यमंत्री चौहान एवं भाजपा के अन्य नेताओं ने उनकी अर्थी को कंधा दिया. इस दौरान केन्द्रीय मंत्रिगण उमा भारती, नरेन्द्र सिंह तोमर, हर्ष वर्धन, अनंत कुमार एवं थवरचंद गहलोत, आरएसएस के वरिष्ठ नेतागण भैयाजी जोशी, दत्तात्रेय होसबोले एवं सुरेश सोनी, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय मौजूद थे.दिवंगत दवे को गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया. बता दें कि दवे के सम्मान में मध्यप्रदेश सरकार ने 18 और 19 मई को दो दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया है. स्मरण रहे कि केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री दवे का कल सुबह दिल्ली के एम्स में निधन हो गया था.

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश से दो बार राज्यसभा सदस्य रहे दवे के निधन की खबर लगते ही उनके भोपाल स्थित आवास ‘नदी का घर’ में शोक छा गया . उनके निधन की खबर मिलते ही उनके समर्थक उनके आवास ‘नदी का घर’ में कल इकट्ठा होना शुरू हो गये थे. बता दें कि इस घर की स्थापना दवे ने नदी नर्मदा के संरक्षण के लिए बनाये गये ‘नर्मदा समग्र’ नामक गैर सरकारी संगठन को चलाने के लिए की थी.मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले के बड़नगर में छह जुलाई 1956 को जन्मे दवे भोपाल आने पर अक्सर इसी घर में ठहरते थे.राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े दवे को कुशल रणनीतिकार माना जाता था.

यह भी देखें 

2012 में अनिल माधव दवे ने लिख दी थी अपनी अंतिम इच्छा, पढ़िए पूरा पत्र

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे का निधन, PM मोदी ने बताया निजी क्षति

 

IPL 2017 LIVE Score से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! आईपीएल क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App